लोगों द्वारा अपने मोबाइल या दूसरे उपकरणों को देखने के लिए अपनी गर्दन मोड़ने पर सेक्स व ऊंचाई पर असर पड़ता है। अमेरिका में फोन व टैबलेट के स्वामित्व के बढ़ने के साथ डेस्कटॉप या लैपटॉप कंप्यूटर इस्तेमाल की तुलना में गर्दन के मोड़ने या झुकाने के तरीकों में बढ़ोतरी हुई है।

इस शोध के निष्कर्ष जर्नल क्लिनिकल एनाटॉमी में प्रकाशित हुए हैं। इन निष्कर्षों के अनुसार अर्कासस विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के इस्तेमाल के दौरान गर्दन व जबड़े की मुद्राओं को देखा है।

शोध में पाया गया कि महिलाएं व छोटे व्यक्ति अपनी गर्दन को पुरुषों व लंबे लोगों की तुलना में अलग-अलग तरीकों से झुकाते या मोड़ते हैं, यह महिलाओं की गर्दन और जबड़े के दर्द से जु़ड़ा होता है।

कुछ साक्ष्यों से पता चलता है कि इन उपकरणों का इस्तेमाल जैसे कि सेलफोन या टैबलेट कुछ मुद्राओं में गर्दन और जबड़े दोनों पर असर डालता है, जिससे दोनों में दर्द होता है।

— आईएएनएस

ये भी पढ़ें: चेतन भगत और उपन्यासों की भाषा – शब्द युद्ध!

ये भी पढ़ें: आजम के बेटे और पत्नी को पुलिस का नोटिस

Leave a Reply