सऊदी अरब में हुए ड्रोन हमले में शनिवार को सरकारी कंपनी अरामको की दो तल रिफाइनरियों में आग लग गई। मीडिया ने इस बात की जानकारी दी। सऊदी प्रेस एजेंसी ने कहा कि ड्रोन हमले के कारण रियाद से लगभग 150 किलोमीटर दूर, राज्य के तेल समृद्ध प्रांत में अबकैक शहर में रिफाइनरी में आग लग गई।

अरामको कंपनी इसे दुनिया के सबसे बड़े ऑयल प्रोसेसिंग प्लांट के रूप में प्रस्तुत करती है।

हालांकि, समाचार एजेंसी ने इस बात का खुलासा नहीं किया कि हमले के लिए इस्तेमाल में लाया गया ड्रोन किस प्रकार का था या इसके पीछे कथित अपराधी कौन है।

ये भी पढ़ें: दुर्योधन ने विश्व मुक्केबाज़ी चैम्पियनशिप में जीत के साथ किया पदार्पण

राज्य की मीडिया ने बताया कि दोनों ही स्थानों पर लगी आग पर अब काबू पा लिया गया है और कथित तौर पर हुए इस हमले को लेकर जांच शुरू कर दी गई है।

सोशल मीडिया पर कई प्रकार के वीडियो शेयर किए जा रहे है, जिसमें अरामको के कंपाउंड को आग की लपटों में घिर देखा जा सकता है। इसके अलावा साइट की बिल्डिंग से काला धुआं निकलता देखा जा सकता है।

कुछ वीडियो में तो क्रमश: हो रहे कई धमाकों की आवाज तक सुनी जा सकती है।

— आईएएनएस

ये भी पढ़ें: राम सिया के लव कुश पर प्रतिबंध लगना चाहिए: हंस राज हंस

ये भी पढ़ें: अल्जाइमर से बचाएगी नई दवा : शोध

Leave a Reply