पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने घोषणा की है कि उनकी सरकार भारत और विदेशों से आने वाले सिख श्रद्धालुओं को मल्टीपल और ऑन अराइवल वीज़ा जारी करेगी और पवित्र स्थलों की यात्रा के दौरान उन्हें जितना संभव हो सके ज़्यादा से ज़्यादा सुविधाएं प्रदान करेगी। द न्यूज़ इंटरनेशनल के मुताबिक, इमरान ख़ान ने यहां सोमवार को गवर्नर हाउस में अंतर्राष्ट्रीय सिख सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, “मैं आपको भरोसा दिलाता हूं कि आपको मल्टीपल वीज़ा जारी किए जाएंगे .. यह हमारी ज़िम्मेदारी है। हम आपको यह सुविधा देंगे। यहां तक कि हवाईअड्डे पर वीज़ा की सुविधा मुहैया कराएंगे।”

उन्होंने कहा, “(हम) आपको अपनी यात्रा को सुविधाजनक बनाने के लिए मल्टीपल वीज़ा देंगे।”

इस सम्मेलन में पंजाब के गवर्नर चौधरी सरवर, संघीय और प्रांतीय कैबिनेट के सदस्यों और ब्रिटेन , अमेरिका, कनाडा, यूरोप और अन्य देशों के सिख श्रद्धालुओं ने भाग लिया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि सत्ता में आने के बाद उनकी सरकार ने तीर्थयात्रा या पर्यटन के लिए देश का दौरा करने के इच्छुक विदेशियों पाकिस्तानी वीज़ा लेने में होने वाली कठिनाइयों को महसूस किया।

उन्होंने कहा, “हालांकि हमारी सरकार ने वीज़ा व्यवस्था को बदल दिया है, बाधा पैदा करने की मानसिकता धीरे-धीरे कम होती जाएगी।”

पंजाब के गवर्नर की पहल पर 31 अगस्त को शुरू हुए सम्मेलन का सोमवार को समापन हो गया, जो नवंबर में गुरु नानक देव की 550 वीं जयंती समारोह की तैयारियों के बारे में सुझाव मांगने के मक़सद से पंजाब के गवर्नर की पहल पर आयोजित किया गया था।

भारतीय सिख तीर्थयात्री दुनिया भर के हजारों अन्य लोगों के साथ पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के गुरुद्वारे में जाएंगे, जहां गुरु नानक देव ने अपने अंतिम दिन बिताए थे।

–आईएएनएस

ये भी पढ़ें: पाकिस्तानी मंत्री ने कहा “भारत और पाकिस्तान, दोनों को धोख़ा दे रहे हैं ट्रंप”

ये भी पढ़ें: भारतीय डिप्लोमेट ने कुलभूषण जाधव से पाकिस्तान में मुलाकात की

Leave a Reply