दुनिया के सबसे बड़े छात्रसंघ चुनाव दिल्ली विश्वविद्यालय छात्रसंघ (डूसू) चुनावों में राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ की छात्र शाखा अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) ने शुक्रवार को चार सीटों में से तीन पर जीत दर्ज की, जबकि कांग्रेस के नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया (एनएसयूआई) को सिर्फ एक सीट मिली। एबीवीपी के अध्यक्ष पद के उम्मीदवार अश्वित दहिया ने एनएसयूआई के उम्मीदवार चेतन त्यागी को 19,000 से ज्यादा वोटों के अंतर से हराया। प्रदीप तंवर व शिवांगी खरवाल ने क्रमश: उपाध्यक्ष व संयुक्त सचिव पद के लिए सबसे ज्यादा वोट हासिल किए।

एनएसयूआई से सिर्फ आशीष लांबा ने एबीवीपी के योगी राठी को 2,053 वोटों के अंतर से डूसू सचिव पद के लिए हराया।

इस साल मतदान 39.90 फीसदी दर्ज किया गया, जो बीते साल के मुकाबले चार फीसदी कम रहा।

ये भी पढ़ें: राम सिया के लव कुश पर प्रतिबंध लगना चाहिए: हंस राज हंस

चार महिलाओं सहित 16 उम्मीदवार मैदान में थे और 52 मतदान केंद्र बनाए गए थे। इसमें 1.3 लाख से ज्यादा योग्य मतदाताओं ने भाग लिया।

मतदान गुरुवार की सुबह कॉलेजों में 9.30 बजे से शुरू हुआ और दोपहर बाद 1 बजे समाप्त हुआ, जबकि सायंकालीन कॉलेजों में यह 3 बजे शुरू हुआ और शाम 7.30 बजे समाप्त हुआ।

बीते साल भी एबीवीपी ने तीन पदों पर जीत हासिल की थी और एनएसयूआई को सिर्फ एक सीट मिली थी।

— आईएएनएस

ये भी पढ़ें: यू-19 एशिया कप: भारत फ़ाइनल में, ख़िताबी मुक़ाबला बांग्लादेश से

ये भी पढ़ें: आजम के बेटे और पत्नी को पुलिस का नोटिस

Leave a Reply