बसपा सरकार में स्वास्थ्य राज्यमंत्री रहे घूरा राम अपने समर्थकों सहित सोमवार को समजावादी पार्टी (सपा) में शामिल हो गए। इनके साथ ही फूलन सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष गोपाल निषाद ने भी पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इस दौरान पत्रकारों से कहा कि बहुत पुराने नेता, समाज में सबसे कमज़ोर लोगों की आवाज उठाने वाले भूरा राम के सपा में शामिल होने का हम स्वागत करते हैं।

अखिलेश ने चुनाव के दौरान सपा और बसपा की मदद करने वालो को धन्यवाद दिया। एक सवाल के जवाब में अखिलेश ने कहा कि आज़म खां पर लगाए गए सभी मुक़दमे झूठे हैं।

उन्होंने भाजपा सरकार पर हमला बोलते हुए कहा, “कहा कि इंवेस्टर समिट और वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट का प्रचार जोरशोर से हुआ, कई उद्योगपति भी बुलाए गए, पर ज़मीन पर कुछ नहीं हुआ। राजनीतिक विश्लेषक और अर्थशास्त्री सच बता रहे हैं। आज देश में सबसे ज़्यादा बेरोज़गारी है। यही कारण है कि बांग्लादेश का पैसा आज भारत के पैसे से आगे निकल गया है। लोगों का ध्यान इन मुद्दों से हटाने के लिए लोगों को आपस में लड़ा रहे हैं। वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोजेक्ट से ज्यादा का बजट गौ माता के लिए रखा गया और अब उसको भी नहीं बचा पा रहे हैं।”

ये भी पढ़ें: मोदी बने अरब के सर्वोच्च नागरिक!

अखिलेश ने कहा, “देश और उत्तर प्रदेश बहुत ही नाज़ुक दौर से गुज़र रहा है। किसान दुखी हैं और आत्महत्या कर रहे हैं। क़ानून-व्यवस्था पर सरकार का अंकुश नहीं रह गया है। लग रहा है कि यह हत्या प्रदेश बन गया है।”

सपा मुखिया ने कहा, “उप्र में कितने अपराधी हैं और उनके ऊपर कितने का इनाम है, इसकी सूची जारी करनी चाहिए, जिससे जनता को सच पता लगे। आज पुलिस इंस्पेक्टर की हत्या करने वालों का स्वागत किया जा रहा है। मानवाधिकार के नोटिस सबसे ज़्यादा इसी सरकार को मिले हैं। समाजवादियों द्वारा क्या इसीलिए उत्तर प्रदेश का डीजीपी ऑफ़िस बनाया गया था कि पुलिस वहां बैठे और प्रदेश की जनता पर अत्याचार करे।”

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने किसान जंक्शन मोबाइल एप शुरू किया है। उन्होंने कहा कि इस एप से किसानों को फ़ायदा मिलना चाहिए। उन्होंने कहा कि यह काम सरकार को करना चाहिए, लेकिन हमें करना पड़ रहा है।

सपा में शामिल होने के बाद घूरा राम ने पत्रकारों से कहा, “सपा में आने वालों की आंधी आ गई है। मैं पूरे बलिया को सपा में जॉइन करा दूंगा। युवाओं में अखिलेश यादव को लेकर काफ़ी उत्साह है। नौजवान सपा सुप्रीमो को सबसे ज्यादा मानते हैं।”

–आईएएनएस

ये भी पढ़ें: कश्मीर बंद का 22वां दिन, प्रतिबंधों में ढील दी

ये भी पढ़ें: अब चंद्रमा पर मानव मिशन की तैयारी शुरू

Leave a Reply