हाल के कई वर्षो में नई ऊर्जा वाली कारों के व्यवसाय का निरंतर विकास व परिपक्वता के साथ चीनी लोग धीरे-धीरे नई ऊर्जा वाली कारों का प्रयोग करने लगे हैं। अब चीनी सड़कों पर मर्सिडीज की नई ऊर्जा वाली कारों की संख्या ज्यादा से ज्यादा हो रही है। साथ ही नई ऊर्जा वाली कारों की बिक्री लगातार चार साल तक विश्व के पहले स्थान पर रही। पेइचिंग वाले वांग लगातार छह महीने नई ऊर्जा वाली कारों का प्रयोग करते हैं। उनके अनुसार, इस गाड़ी की सब से श्रेष्ठता पैसे की किफायत है। पहले वे ईंधन यानी पेट्रोल वाली कार का प्रयोग करते थे, प्रति सौ किलोमीटर के लिए 7 लीटर ईंधन चाहिए, जिसका खर्च लगभग 50 युआन था। अब नई ऊर्जा वाली कार का प्रयोग करने में प्रति सौ किलोमीटर के लिए केवल छह या सात युआन लगते हैं।

अब ज्यादा से ज्यादा चीनी लोग नई ऊर्जा वाली कारों का प्रयोग करते हैं। एक पक्ष में चीन के बड़े व मध्य शहरों में पर्यावरण की संरक्षण के मद्देनजर ईंधन कारों के खरीदने व प्रयोग करने में तरह तरह के प्रतिबंध लगाए गए। दूसरे पक्ष में चीन सरकार नई ऊर्जा वाली कारों के अध्ययन का बड़ा समर्थन देती है, और उपभोक्ताओं को नई ऊर्जा वाली कारों का प्रयोग करने के लिए प्रोत्साहित करती है।

(साभार : चाइना रेडियो इंटरनेशनल, पेइचिंग)

–आईएएनएस

Leave a Reply